तारक मेहता का उल्टा चश्मा: बापूजी की वजह से जेल जाने से बचते थे जेठालाल, सच्चाई जानकर हैरान रह गए गोकुलधाम के लोग

तारक मेहता का उल्टा चश्मा रिटेन अपडेट्स: आखिरकार सच्चाई सबके सामने आ ही गई। जो सब सोच रहे थे वो हुआ नहीं और बापूजी ने आकर सबकी दुविधा और गलतफहमी दूर कर दी। यानी जेठालाल जेल जाने से बच गया। लेकिन आखिर बापूजी ने ऐसा कौन सा सच बताया जो गोकुलधाम के लोगों के जीवन में आया?

तारक मेहता का उल्टा चश्मा टुडे एपिसोड: पोपटलाल के गहनों की कहानियों ने न केवल गोकुलधाम वासियों को बल्कि तारक मेहता का उल्टा चश्मा के दर्शकों को भी परेशान कर दिया था। भाई….आखिर हर कोई ये सोचकर परेशान हो गया कि पोपटलाल के जेवर कहां गए. बक्सा तो मिला था लेकिन खाली था, जिसे देखकर भिड़े के होश उड़ गए और सबसे बुरी बात यह हुई कि जेठालाल के घर से जेवर मिले वो भी बापूजी की अलमारी से। जिससे साफ था कि जेठालाल ने चोरी की है और उसके जेल जाने की पूरी तैयारी कर ली गई है। हथकड़ी लगा दी गई और गोकुलधाम के लोग जेठालाल को कोसने लगे। लेकिन तभी बापूजी जेठालाल के लिए मसीहा बनकर आए और जेठालाल को बचा लिया।

जेठालाल ने नहीं की चोरी

दरअसल, जेठालाल को जिस आरोप में गिरफ्तार किया जा रहा था, उस आरोप को उसने चुराया नहीं था. बल्कि उसे नहीं पता था कि उसके घर में गहने हैं। क्योंकि इन गहनों को बापूजी ने खुद जेठालाल से छिपाकर रखा था। भिड़े जेठालाल को जेवर देने गया तो उसने जेवर टेबल पर खुले छोड़े थे। बापूजी ने यह देखा तो समझ गए कि जेठिया बहुत लापरवाह हो गए हैं। तो बापूजी ने बक्सा बंद कर दिया और गहने निकाल कर अपने पास रख लिए ताकि वे उसे सबक सिखा सकें। यानी पूरे गोकुलधाम में गहनों का खाली डिब्बा घूमता रहा।

बापूजी ने बचाई जान

पुलिस ने जब जेठालाल को गिरफ्तार किया था, तब बापूजी ने आखिरी मौके पर पहुंचकर जेठालाल को बचा लिया था। पूरे मामले की जानकारी इंस्पेक्टर चुलबुल पांडेय को दी गई और चुलबुल पांडे ने जेठालाल को निर्दोष मानते हुए गहने भिड़े को सौंप दिए. अगले दिन पोपटलाल भिड़े पहुंचे और भिड़े ने सारे गहने उन्हें वापस दे दिए।

यह भी पढ़ें: उर्फी जावेद ने पार की बोल्डनेस की सारी हदें, ट्रांसपेरेंट ड्रेस पहन कर दिखाई हॉटनेस- वीडियो हुआ वायरल

Leave a Reply

Your email address will not be published.